अमिताभ बच्चन के 78वे जन्मदिन पर जानिए उनके जीवन से जुड़ी कुछ बातें

अमिताभ बच्चन का जन्म 11 अक्टूबर 1942 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हिंदी के मशहूर कवि हरिवंश राय बच्चन के घर हुआ था। उनके मां का नाम तेजी बच्चन था। उनके एक छोटे भाई भी हैं जिनका नाम अजिताभ है। अमिताभ का नाम पहले इंकलाब रखा गया था लेकिन उनके पिता के साथी रहे कवि सुमित्रानंदन पंत के कहने पर उनका नाम अमिताभ रखा गया। बाद में यही नाम आगे चलकर फिल्मी दुनिया का महानायक बना। अमिताभ बच्चन ने दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोरीमल कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद फिल्मी दुनिया मे कदम रखा।

फिल्मी कैरियर की शुरुवात

अमिताभ बच्चन के फिल्मी कैरियर की शुरूआत फिल्मों में वॉयस नैरेटर के रूप में फिल्म ‘भुवन शोम’ से हुई थी। अभिनेता के तौर पर उनके करियर की शुरूआत फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ से। इसके बाद उन्होंने कई फिल्में दी लेकिन सारी की सारी फिल्में फ्लॉप रही, वे ज्यादा सफल नहीं हो पाईं। फिल्म ‘जंजीर’ उनके करियर का बेहतरीन मोड़ साबित हुई, जिसके बाद फिल्मी जगत में उनके पैर जम गए। इसके बाद उन्होंने लगातार हिट फिल्मों की झड़ी तो लगा दी। इसके साथ ही साथ वे हर दर्शक वर्ग में लोकप्रिय हो गए और फिल्म इंडस्ट्री में अपने अभिनय का लोहा भी मनवाया। फ़िल्म शोले,डॉन और मुकदर का सिंकदर के साथ ही वो सदी के महानायक बन गए।

अमिताभ बच्चनअमिताभ बच्चन और रेखा की अफेयर की चर्चा भी खूब रहीऔर लोगों के लिए चर्चा का विषय बनी। लेकिन, अमिताभ बच्चन ने अपनी शादी उस समय के मशहूर अभिनेत्री जया भादुड़ी की जो अब जया बच्चन के नाम से मशहूर हैं। अभिषेक बच्चन उनके सुपुत्र हैं और श्वेता नंदा उनकी सुपुत्री हैं।

सम्मान औऱ पुरस्कार

अमिताभ बच्चन को फिल्मी दुनिया अविस्मणीय योगदान के लिए कई सम्मान और पुरस्कार मिल चुके है। उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर पर 3 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और 14 बार फिल्मफेयर अवार्ड मिल चुका है। भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री और पद्मभूषण सम्मान से भी नवाजा है। साल 2019 में फ़िल्म जगत में उनके अमूल्य योगदान के लिए उन्हें दादासाहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। इससे पहले उन्‍हें भारत सरकार की तरफ से 1984 में पद्मश्री, 2001 में पद्मभूषण और 2015 में पद्मविभूषण जैसे सम्‍मान मिल चुके हैं।

2005 में आई फिल्‍म ‘ब्‍लैक’ में उन्‍होंने शानदार अभिनय किया और उन्‍हें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार से एक बार फिर सम्‍मानित किया गया। फिल्‍म पा में उन्‍होंने अपने बेटे अभिषेक बच्‍चन के ही बेटे का किरदार निभाया। फिल्‍म को काफी पसंद किया गया और एक बार फिर उन्‍हें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार से नवाजा गया। इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल्‍स और कई अवार्ड समारोहों में उन्‍हें कई पुरस्‍कारों से सम्‍मानित किया गया है। उन्‍हें फिल्‍मफेयर में उन्हें सबसे ज्‍यादा 39 बार नामांकित किया जा चुका है। जून 2000 तक वे पहले ऐसे एशिया के व्‍यक्ति थे जिनकी लंदन के मैडम तुसाद संग्रहालय में वैक्‍स की मूर्ति स्‍थापित गई थी।

Read Also: Uttarakhand GK – Uttarakhand General Knowledge 2021

उनके ऊपर कई किताबें भी लिखी जा चुकी हैं-

अमिताभ बच्‍चन: द लिजेंड 1999 में, टू बी ऑर नॉट टू बी: अमिताभ बच्‍चन 2004 में, एबी: द लिजेंड (ए फोटोग्राफर्स ट्रिब्‍यूट) 2006 में, अमिताभ बच्‍चन: एक जीवित किंवदंती 2006 में, अमिताभ: द मेकिंग ऑफ ए सुपरस्‍टार 2006 में, लुकिंग फॉर द बिग बी: बॉलीवुड, बच्‍चन एंड मी 2007 में और बच्‍चनालिया 2009 में प्रकाशित हुई हैं।

फिल्मी दुनिया से राजनीतिक दुनिया में

आपको बता दु फ़िल्म कुली की शूटिंग के दौरान एक दुर्घटना के वो घायल हो। शरीर से इतना रक्त निकल चुका था कि लोगों ने उनके लिए दुआ की। इसी दुर्घटना के बाद उन्हें लगा कि अब वो कभी फ़िल्म नही कर पाएंगे तो उन्होंने राजनीति में अपना भाग्य आजमाया। उन्‍होंने 8वें लोकसभा चुनाव में अपने गृह क्षेत्र इलाहाबाद की सीट से उ.प्र. के पूर्व मुख्‍यमंत्री एच एन बहुगुणा को काफी ज्‍यादा वोटों से हराया और सांसद बनकर लोकसभा पहुँचे।

अमिताभ बच्चनफिल्मी दुनिया के इस सितारे को राजनीति पसंद नही आया। उन्होंने राजनीति छोड़ फिर फिल्मों का रुख किया। अग्निपथ और शहंशाह हिट हुई लेकिन बाकी फिल्में ज्यादा नही चल सकी। उसके बाद से ही उनका फिल्मी कैरियर डोलने लगा। डूबने हुए फिल्मी कैरियर को फिर सहारा मिला 2004 में आई फ़िल्म मोहब्बते से।

अमिताभ बच्चन आज भी अपने कार्यो के प्रति काफी ईमानदार रहते हैं। अपने 78वे जन्मदिन पर भी उन्होंने ट्वीट कर अपने सबसे चर्चित टीवी शो कौन बनेगा करोड़पति को लेकर व्यस्तता कही वर्णन किया हैं। आपको बता दु की अमिताभ बच्चन सिर्फ बड़े पर्दे के कलाकार ही नही है उन्होंने टीवी पर भी अपनी छाप छोड़ी हैं।उनके द्वारा होस्‍ट किया गया केबीसी बहुत ही लोकप्रिय हुआ। इसने टीआरपी के सारे रिकार्ड तोड़ दिए और इस प्रोग्राम के जरिए कई लोग करोड़पति बने।

Leave a Comment