हिंदी प्रेम पत्र संग्रह Love Letter in Hindi for girlfriend boyfriend love letter

First love letter to girlfriend in hindi pdf

  • Sorry love letter for girlfriend
  • Hindi Love Letter to propose
  • Hindi Love Letter for Wife / Girlfriend
  • Hindi Love Letters Straight from Your Heart

Love letter is still a powerful medium to tell your heart. Whether it is sent through facebook or WhatsApp only. Hopefully the Hindi Love Letter given in this post will help you write Love Letter.

Best Heart Touching Hindi Love Letter

तुम्हारे नाम के साथ कुछ और जोड़ने की हिम्मत नहीं है मेरी, न हीं कुछ और जोड़ना मैं जरूरी समझता हूँ. जरूरत हीं नहीं तुम्हारे नाम के आगे “प्यारी”, “प्रिय” “My Love” या “डिअर” लगाने की.

तुम्हारा नाम लेने के साथ जो चेहरा उभरता है, उससे तो सहज हीं प्यार हो जाए. फिर तुम्हें किसी और विशेषण की क्या आवश्यकता. तुम तक यह बात Love Letter लिखकर पहुंचा रहा हूँ, क्योंकि तुम्हारे सामने होने पर मैं कुछ बोल नहीं पाता.

सोचता बहुत हूँ, कि इस बार मिला तो ये कह दूंगा या वो कह दूंगा. लेकिन कभी कह नहीं पाता. तुम्हारी मासूम बड़ी-बड़ी सी आँखों से जब तुम मुझे देखकर निश्छल बच्चों सी हँस देती हो, मैं सबकुछ वहीं भूल जाता हूँ.

और उसके बाद जब तुम बोलना शुरू करती हो, तो रूकती कहाँ हो, मैं तो असहाय सा फिर तुम्हारी Stories में तुम्हारे पीछे-पीछे चलता रहता हूँ.

इतनी बातें करनी होती है तुम्हें कि मुझे आश्चर्य होता है कि तुम्हारी बातें इतने हीं अक्षरों में पूरी कैसे हो जाती है.  और वो जो तुम अपने चेहरे पर आने वाले बालों को सिर्फ एक ऊँगली से कानों के पीछे टिका देती हो, तो मेरा दिल भी मानो उसी में कहीं उलझ जाता है.

और चाय के कप को दोनों हाथों से पकड़कर जब तुम चाय को फूंकती हो, उस हवा में मेरे सारे ख्याल झट से  उड़ जाते हैं और सिर्फ तुम्हारा चेहरा दिमाग में बस जाता है.

जाने क्या है तुम्हारे अंदर कि जो इन्सान तुम्हें एक बार जान ले वो तुम्हें लेकर इतना protective हो जाता है कि दुनिया भर से तुम्हारी मासूमियत को बचा लेना चाहता है.

गुस्से में तुम जो वो गाल फुलाकर बैठ जाती हो ना, इतनी प्यारी लग रही होती हो कि बस वही देखने के लिए तुम्हें कई बार चिढ़ा देता हूँ. लो तुमने फिर से बात से भटका दिया, तुम हो हीं ऐसी….. तुम्हारे ख्यालों के अन्दर जाने का तो रास्ता है लेकिन बाहर आने का नहीं.

कहना बस इतना है कि मैं चाहता हूँ कि तुम्हारी हर हंसी में साथ हँसने के लिए और तुम्हारे हर आंसू को समेटने के लिए मैं हमेशा तुम्हारे पास रहूँ.

मैं तुम्हारी कहानियों में घूमना चाहता हूँ, तुम्हारी बकबक सुनना चाहता हूँ. तुम्हारे साथ लड़ना और फिर तुम्हें मनाना चाहता हूँ. जिंदगी की भागदौड़ के बीच से ये छोटी-छोटी खुशियाँ चुराना सीखना चाहता हूँ.

तुम्हारे हंसी की वजह होना चाहता हूँ. तुमसे जीना सीखना चाहता हूँ. और हाँ अब मैं तुमसे कह सकता हूँ कि मैं तुमसे प्यार करता हूँ. और शायद इससे भी ज्यादा प्यार करना चाहता हूँ.
तुम्हारा – आसीफ ( तुम्हारा दिल, तुम्हारा Love )

Also Read: Uma Maheshwar Ugarraupyasya tamil movie review

इन लव शायरी को आप अपने हिंदी लव लेटर में शामिल कर सकते हैं।

कि जब आत्मा आत्मा से मिलती है,
जब दो दिलों में मिलने का एहसास होता है।

उसकी आँखें बंद होने के साथ, केवल उसका चेहरा दिखाई देता है
जब भी कोई किसी के दिल में बसता है।

इससे दूर होने पर आंखों में नमी होती है,
उसके पास हर जगह खुशी है।

तुम दिल में बसे हो
हां, तुम मेरी हो गई हो।

सच्चे प्यार में सच्चाई होती है,
वे इसे कभी नहीं,
जो सच्चा प्यार करते हैं।

Hindi love letters straight to your heart

Heart touching love letter for Boyfriend, love letter in hindi language for boyfriend

हेल्लो अनिरुद्ध,
तुम कैसे हो? और मैं यहाँ कुशल मंगल हूँ, ये सब बातें करने का हक तो सायद मैं खो चुकी हूँ, लेकिन फिर भी, बहुत दिनों से तुमसे ये पूछना चाहती थी कैसे हो तुम?

तुमसे आखरी बार बात हुए 93 दिन हो गए, और ऐसा नहीं है की मैं हर दिन, दिन गिनती थी तुम्हारे बगैर, बस वो दिन तुम्हारा जन्मदिन दिन था जो मैं कभी भूल नहीं सकती तो याद है. ऐसा नहीं है की मैं तुमसे पहले बात नहीं कर सकती थी या बात करना नहीं चाहती थी,

लेकिन सच कहूँ तो हिम्मत नहीं हुई. और फिर मैं कहती भी क्या और कैसे? तुम्हारे जितना ख़ूबसूरत न तो सोच पाती, न लिख. फ़ोन भी करना चाहा, लेकिन लगा की, कहूँगी क्या?

इसलिए आज तुम्हारे सबसे अच्छे दोस्त, कलम का ही सहारा लेकर Letter लिख रही हूँ, शायद मेरी बात तुम तक पहुँच जाए.

हमारी दोस्ती भी तो एक कलम से ही शुरू हुई थी, तुम्हे याद है? एडमिशन का वो दिन, वो तेज़ बारिश, और मैं इतनी भुलक्कड़ की पेन ही भूल आई थी… मैंकिसी से पेन मांगने का सोच ही रही थी की तुम सामने से आये और मुझे पेन पकड़ा दिया.

और जबतक मैं फॉर्म भर के तुम्हे पेन वापस कर पाती, तुम जा चुके थे… मैं उस दिन भी तुमसे थैंक यू कहना चाहती थी, और उस दिन के बाद तो न जाने कितनी बार तुमने बिना मेरे कहे मेरी जरूरतों को समझा, और मैं किनती बार तुमसे कुछ नहीं बोल पायी. लेकिन आज मैं कहना चाहती हूँ, थैंक यू, वो पेन देने के लिए नहीं, बल्कि मेरी ज़िन्दगी में आने के लिए. उस हर बार के लिए थैंक यू.

जब तुमने बिना कहे मेरी हर जरुरत को समझा. मैं कभी तुमसे बयां नहीं कर पायी की तुम मुझे मुझसे भी ज्यादा समझने लगे थे. तुम्हे पता होता था किस दिन मुझे एक गुलाब चाहिए, किस दिन मुझे मीठाखाने का मन होता था, और कब मुझेगाने सुनने हैं, तुम्हे हर एक बात मुझसे बेहतर पता होती थी.

तुमने कभी शिकायत करने का कोई मौका ही नहीं दिया. तुम्हारे बारे में हर एक चीज़ ऐसी थी की जिसमे शिकायत की गुंजाईश ही नहीं थी

और तुम मुझे हर दिन के साथ और समझते चले गए, और मैंने कभी तुम्हे समझने की कोशिश ही नहीं की. तुम कब मेरे अच्छे, सबसेअच्छे दोस्त बन गए मुझे पता ही नहीं चला. और मुझे तो ये भी पता नहीं चला की सायद मैं तुम्हारे लिए सबसे अच्छे दोस्त से भी बढ़कर थी. मैंने कभी कुछ समझने की कोशिश ही नहीं की.

तुम्हारा होना, जैसे मेरे लिए एक आदत सा बन गया था, जिसपे मेरा कभी ध्यान ही न जाए, तुम मेरे इतने करीब थे. और फिर मैं खुद में और दूसरों में इतनी खो गयी की कब तुम मुझे बिना बताये मुझसे दूर हो गए ये भी नहीं समझ पायी

तुम जैसे मेरी हर जरुरत को बिना कहे समझते थे, तुमने ये भी खुद ही समझ लिया की अब मैं तुम्हारे बगैर भी खुश हूँ? तुमसे शिकायत भी नहीं कर सकती, तुमने बहुत कोशिश की थी, और मैं तुमसे बताना चाहती हूँ, उस समय भले मैं नहीं समझ पायी, लेकिन मुझे वो हर एक कोशिश याद है. तुम चले गए, और मैंने जाने दिया…

लेकिन मैं बता नहीं सकती तुम्हारे जाने के बाद मैंने कितना याद किया है हम दोनों को, हमारी दोस्ती को, हमारे प्यार को… हाँ, हमारे प्यार को,क्यूंकि भले ही मैंने ये कभी माना नहीं, लेकिन हम दोनों ने एक दुसरे से प्यार ही तो किया है. तुमनेसबकुछ बयान कर के, मैं अनजाने में. और तुम्हारे जाने के बाद मैंने भी हर रोज़ तुमसे उतना ही प्यार किया है, जितना सायद तुम हमेशा चाहते थे…

तुमने मेरी हर जरुरत बिना कहे पूरी की है, और अगर अब मैं तुमसे और कुछ मांगती तो ये पाप से कम न होगा, लेकिनफिर भी, तुमसे तुम्हारा प्यार न सही, तुम्हारी दोस्ती न सही, एक मुलाकात तो मांग ही सकती हूँ?
अगरवापस आ सको तो आ जाना… मैं इंतज़ार करूंगी, तुम न भी आये तो. हर रोज़, उसी जगह, जहाँ तुमने सब शुरू और मैंने सब ख़त्म किया था…अगर आ सको तो आना…
तुम्हारी, सुषमा. ( तुम्हारी जान, तुम्हारी Sweet Heart, तुम्हारी Love )

इन लव शायरी को आप अपने हिंदी लव लेटर में शामिल कर सकते हैं।

हम एक दूसरे में समाये है,जब हो जरूरत महसूस कर लीजिये,हम आपके मुस्कान में समाये है।

मीलों की दूरी है,फिर भी इस दिल को वो हीं जरूरी है।

सारी दुनिया के लिये वो आम है,लेकिन वो मेरे लिये सबसे खास इंसान है।

दोस्ती का इरादा था,पर मोहब्बत को आ जाना था,क्योंकि मुझे उनसे सच्ची दोस्ती नहीं, सच्ची मोहब्बत को निभाना था

प्रेमिका / पत्नी के लिए लव लेटर – Pyar Bhara Hindi Love Letter -Hindi Mein Prem Patra

आँचल
चिट्ठी मिली तुम्हारी… क्या कहूँ… समझ नहीं पा रहा… जी चाहता है झिंझोड़ दूँ पकड़ कर.. क्यों की इतनी देर आँचल… क्यों…

बेहद प्यार था तुमसे… तुम्हारी हर हँसी पर हँसता था.. तुम्हारे हर आँसू पर रोता… कितना पागल था न मैं..मुझे पता था कोई कीमत नही है मेरी.. कुछ भी तो नही था मैं।

कितनी आसानी से कह दिया था सब कुछ तुमने उस दिन… तुम्हारी एक एक बात चुभ रही थी आँचल.. पर जानती हो सबसे ज्यादा क्या चुभ रहा था… की मै ने खोल के रख था खुद को तुम्हारे सामने ओर तुमने मेरे उस खुले हुए स्व पर बाण चला दिए…. की तुम जानती थी कि मुझे को सी बात चुभेगी… औऱ तुमने जान बूझ कर वही सब कहा… मेरे अंदर के ढाई अक्षर का गला उसी दिन घोंट दिया तुमने… ऐसा लग रहा था कि जो बगीचा मैन अपने प्यार, तुम्हारी हँसी और अपने आंसुओं से सींचा था

तुमने कुछ ही देर में उसे रौंद डाला…. उसके फूल नोच कर बिखेर दिए.. उसके पौधों को अपने अहंकार तले रौंद दिया…

पर इसमें भी शायद मेरी गलती है… तुम्हें दुलार में मैंने ही तो बिगाड़ा था… एक बिगड़ैल बच्चा किसी फुलवारी को देख कर जो करता है वही तो किया तुमने…

जानती हो तुम्हारी हर जरूरत तुमसे पहले कैसे समझ जाता था मैं?… तुम्हारी मासूम आंखों से। जब पहली बार दिखी थी तुम… हाथों में एप्लीकेशन फॉर्म पकड़े बड़ी बड़ी आंखों से इधर उधर देख रही थी, जैसे कुछ ढूंढ रही हो। ऐसी हो तो दिखती हो टीम जब कुछ चाइए होता है तुम्हें, जैसे कोई हिरणी किसी जाल में फँस कर, बाहर निकलने का रास्ता तलाश रही हो।पर तुम बदल रही थी

आँचल। तुम्हारी मासूमियत सजावटी बनावटी दीवारों के पीछे दब गयी थी। उस दिन जब तुमने वो सब कुछ कहा, मेरे उम्मीद की आखिरी डोर भी टूट गयी थी

तुम बस इतना जान लो आँचल, मैं तुमसे बेहद प्यार करता था, टूट कर प्यार करता था, आगे भी कोई आएगा तो उसे यूँ ही प्यार करूँगा…

तुम्हें खास मेरे प्यार ने बनाया था। तुम खास थी क्योंकि मैं तुम्हे प्यार करता था। तुम्हारी हर चीज़ प्यारी थी क्योंकि मैंने तुम्हारी हर चीज़ से प्यार किया था… तुम्हें तुम मैंने बनाया था आँचल।
ख़ैर छोड़ो, बात बस इतनी है कि अब कभी नही आऊँगा मैं। पलट कर भी नही देखूँगा। मर चुका है मेरा ढाई आखर। इंतज़ार मत करना मेरा।

खुश रहो हमेशा। और हो सके तो जो भी अब आए ज़िन्दगी में उन्हें ख़ास बनाने में इतनी देर न करना। दिखावटी दीवारों से प्यार नही दिखता, और उनमें झरोखे भी नहीं होते।
कभी तुम्हारा अब अपना
पीयूष
– अंशु प्रिया ( Anshu Priya )

आप इन हिंदी प्रेम शायरी को हिंदी प्रेम पत्र में शामिल कर सकते हैं

दिल,धड़कन,जिगर सब कुछ तुम हो,औए तेरे बिन मैं कुछ भी नहीं।

फकत इतना सा फसाना है,मुझे तेरे चेहरे की मुस्कान बन जाना है।

आंखों में बस गए हो काजल की तरह,दिल में समा गये हो धड़कन की तरह

उसके गलती को नजरअंदाज करते है,उससे गुस्सा कर के भी हम आँखें चार करते है,कुछ इस तरह हम उनसे सच्चा प्यार करते है।

Sorry hindi love letter for girlfriend

अनु,
मैं जानता हूँ तुम मुझसे बहुत नाराज़ हो। कुछ बातें कहनी थी तुमसे, पर तुम न मेरे कॉल्स उठा रही हो, न मेसेज का जवाब दे रही हो। मैं कहना चाहता था जो मुझे बहुत पहले कह देना चाहिए था।

मुझे माफ़ कर दो अनु। मैं बहुत प्यार करता हूँ तुमसे। कुछ भी नहीं हूं मैं तुम्हारे बिना। में जनता हुन मैन जो गलतियां की हैं, उसके बाद मुझे माफ़ कर पाना इतना आसान नही है। पर मैं तो आज भी तुम्हारा वही बुद्धू बच्चा हूँ न, जिसे सिर्फ गलतियाँ करना आता है।

आज भी वही बच्चा समझ कर माफ कर दो। मैं जानता हूँ मैंने तुम्हें बहुत रुलाया है। तुम्हारे love को कभी समझ ही नहीं पाया, पर अनु, ऐसा ही तो होता है न, जब हम हवा में सांस ले रहे होते हैं तो उसकी अहमियत पता नहीं होती, उसकी अहमियत पता चलती है जब हम सांस नहीं ले पाते।

तुम मेरे लिए उसी हवा की तरह हो। और फिर इसमें तुम्हारी भी तो गलती है न, इतना प्यार किया तुमने की मैं भूल ही गया की तुम्हारी भी जरूरतें हैं, की तुम्हें भी मुझसे कोई उम्मीद है। इतना दुलार किया कि मैं सच मुच बच्चा हो गया, बहुत बिगड़ैल बच्चा। और फिर तुम अचानक से छोड़ गई।

मैं मानता हूँ कि मैंने गलत किया है तुम्हरे साथ, पर ये भी तो सोचो कि दुलार में बिगड़ा ये बच्चा कैसे जियेगा तुम्हारे बग़ैर। तुम्हारे सुलाए बिना नींद नहीं आती अब, न खाना खाने का जी होता है। पहले तुम्हारे कॉल्स से परेशान हो जाता था, अब दिन भर तुम्हारी कॉल का इंतज़ार करता हूँ। शहर के हर कोने में रम ही अनु, सिर्फ तुम्हारी ही यादें हैं, मुझे कहीं भी चैन नही मिलता। लौट आओ अनु, इससे पहले की देर हो जाए और तुम्हारा ये बच्चा तुम्हारे बिना अपना बचपना हमेशा के लिए खो दे।

मैं वादा करता हूँ कि अब कभी नहीं रुलाऊँगा। कभी ज़िद नहीं करूँगा, लड़ूँगा भी नहीं, हमेशा तुम्हे सुला कर सोऊँगा, जैसे तुम मुझे सुला कर सोया करती थी। तुम्हारे बिना कभी खाना नही खाऊँगा, तुम्हारी सारी बातें मानूँगा, दवाई खाने में नखरे भी नहीं करूँगा। बस एक बार लौट आओ अनु।तुम्हारे इंतज़ार में,
तुम्हारा और सिर्फ़ तुम्हारा love
asif
— प्रिया (priya)

You can include these Hindi love shayari in your Hindi love letter for GF

जैसे आंखों को काजल सुंदर बनाती है,वैसे मेरी जिंदगी को खूबसूरत बनाते हो आप।

एक दूसरे की खुशी में खुश होना,यही तो सच्चा प्यार है।

उसका ना होकर भी तमाम उम्र,उसकी खुशी के लिये दुआ करना,ये भी तो सच्चा इश्क़ है।

ज़िन्दगी का अहम किस्सा है तू,मेरी वजूद का अब हिस्सा है तू।

हिन्दी प्रेम पत्र के लिए अन्य शायरी।

खुश्बू बन तेरी साँसों में बस जाऊँगी,हाँ , अब मैं तेरी हो जाऊँगी।

सच्चे प्यार की पहचान हो तुम,और कोई नहीं मेरी जान हो तुम।

हरदम बस उसका ही ख्याल रहता है,सच्चे प्यार में कुछ ऐसा हीं हाल रहता है।

उसके खयालों में अपना सबकुछ खोना है,अब मुझे बस अपने हमदम का होना है।

Leave a Comment